Main Menu

PrimaryKaMaster: फतेहपुर : दोआबा के 72 शिक्षक और शिक्षिकाएं हो गए सेवानिवृत्त

फतेहपुर : दोआबा के 72 शिक्षक और शिक्षिकाएं हो गए सेवानिवृत्त

फतेहपुर : दोआबा के 92 शिक्षक-शिक्षिकाओं समेत शिक्षणेत्तर कर्मचारी 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो गए। उनकी पेंशन और जीपीएफ की पत्रावलियां संस्तुति कर भेज दी गईं हैं। बेसिक की कुछ फाइलों में आपत्ति मिलने पर ब्लाक मुख्यालयों को वापस भेजी गई हैं। शिक्षक संगठन सेवानिवृत्त शिक्षकों को समय देयक दिलाने के लिए प्रयासरत हैं।



परिषदीय स्कूलों के कुल 49 शिक्षकों समेत शिक्षणेत्तर कर्मी सेवानिवृत्त हुए हैं। वित्त एवं लेखाधिकारी विनय प्रजापति ने बताया कि पत्रावलियों को संस्तुति के साथ प्रयागराज भेजा जा चुका है। 7फाइलों में आपत्तियां मिलने के कारण मलवां, देवमई, असोथर एवं ऐरायां ब्लाक को वापस किया गया है। शेष फाइलों को पूर्ण कर संस्तुति दे दी गई है। जिनमें 39 की पेंशन भी लगभग बन गई है।

म्ाध्यमिक के 23 शिक्षक हुए सेवानिवृत्त माध्यमिक शिक्षा विभाग के भी 23 शिक्षक शिक्षिकाएं सेवानिवृत्त हो गए।

डीआईओएस महेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि छह प्रधानाध्यापक, दो प्रवक्ता, 10 सहायक शिक्षक एवं पांच शिक्षणेत्तर कर्मी शामिल हैं। माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष आलोक शुक्ला ने बताया कि सेवा से निवृत्त हुए लोगों के देयक की फाइल संस्तुति संगविभाग द्वारा भेजी जा रही चुकी हैं।

चार एनपीएस तो 68 को पुरानी पेंशन

बेसिक एवं माध्यमिक विभाग से सेवानिवृत्त शिक्षकों में चार को एनपीएस का लाभ मिलेगा। शेष 68 को पुरानी पेंशन यानि जीपीएस का लाभ मिलेगा। जिसमें बेसिक शिक्षा विभाग में तीन एनपीएस के 46 जीपीएस के शामिल हैं। इसी तरह से माध्यमिक शिक्षा विभाग में एक एनपीएस एवं 22 जीपीएस के लाभार्थी हैं।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ