Main Menu

PrimaryKaMaster: आखिरकार शिक्षामित्रों का नहीं बढ़ सका मानदेय

आखिरकार शिक्षामित्रों का नहीं बढ़ सका मानदेय


लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत डेढ़ लाख से अधिक शिक्षामित्रों का मानदेय आखिरकार नहीं बढ़ सका है।  शिक्षा निदेशक बेसिक डा. सवेंद्र विक्रम बहादुर सिंह की ओर से जिलों को मानदेय का बजट जारी हुआ है, इससे शिक्षामित्रों में नाराजगी है।



असल में, अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में एलान किया था कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में गांवों में कार्य करने वालों का सरकार मानदेय बढ़ाएगी । इसमें उन्होंने शिक्षामित्रों का भी नाम लिया था, उसके बाद से शिक्षामित्र मानदेय बढ़ने की उम्मीद लगाए थे। ज्ञात हो कि उन्हें इस समय 10 हजार रुपये प्रतिमाह भुगतान मिल रहा है, चर्चा थी कि शिक्षामित्रों का मानदेय दो हजार रुपये प्रतिमाह बढ़ सकता है।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ