Main Menu

UPTET Latest News : दिसम्बर में मुश्किल - जनवरी में होने के आसार, एक महीने में नहीं हो सकेगी पुनर्परीक्षा की तैयारी - प्राइमरी का मास्टर

UPTET Latest News :  दिसम्बर में मुश्किल - जनवरी में होने के आसार, एक महीने में नहीं हो सकेगी पुनर्परीक्षा की तैयारी


लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी ने यूपीटीईटी की रद परीक्षा एक माह के अंदर कराने का एलान किया है, ये अवधि 28 दिसंबर को पूरी हो रही है। पेपर लीक मामले में परीक्षा संस्था के सचिव व प्रश्नपत्र छापने वाली एजेंसी मालिक की गिरफ्तारी व कार्रवाई के चलते बदली परिस्थिति में नए सिरे से प्रश्नपत्र ही नहीं, प्रश्नपत्र छापने की नई एजेंसी का भी चयन होगा। परीक्षा की नई तारीख 10 जनवरी के आसपास हो सकती है। यूपीटीईटी 28 नवंबर को प्रस्तावित थी।



 परीक्षा के एक दिन पहले ही प्रश्नपत्र लीक हुआ, सरकार ने पहली पाली की परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही दोनों पालियों का इम्तिहान रद कर दिया था। टीईटी जल्द कराने के लिए सरकार ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव के पद पर अनिल भूषण चतुर्वेदी व परीक्षा नियंत्रक मनोज कुमार अहिरवार को भेजा है। बेसिक शिक्षा मंत्री डा. सतीश द्विवेदी ने बताया कि यूपीटीईटी की परीक्षा के लिए विभाग तेजी से जुटा है।



प्रयागराज |  पेपर लीक के बाद निरस्त शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) एक महीने में होने के आसार नहीं हैं। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय को टीईटी कराने में कम से कम दो महीने लगने का अनुमान है। पेपर लीक से सरकारी की काफी किरकिरी हो चुकी है।


ऐसे में शुचितापूर्वक परीक्षा कराना सबसे बड़ी चुनौती है।दोबारा कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहता। नए सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी को विश्वासपात्र प्रिंटिंग प्रेस चुनने के साथ प्रश्नपत्र सेट कराना, मॉडरेशन और छपाई कराना है। अन्य तैयारी भी करनी पड़ती है। पेपर जल्दी छप भी जाए तो केंद्रों तक उसे सुरक्षित पहुंचाना बड़ा काम है। सूत्रों के अनुसार टीईटी जनवरी अंत तक दोबारा हो सकता है।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ