बताना होगा कि नहीं आता है उत्तर, तब पूरा होगा पेपर, सीबीएसई बोर्ड के बदलाव जानना है जरूरी - primary ka master - Sarkari Master | Primary Ka Master News | Basic Shiksha News, Updatemarts - PRIMARY KA MASTER

Breaking

Primary Ka Master Daily News Provides all of the news about primary ka master, shiskhamitra, uptet news, basic shiksha news and etc.

Main Menu

मंगलवार, 9 नवंबर 2021

बताना होगा कि नहीं आता है उत्तर, तब पूरा होगा पेपर, सीबीएसई बोर्ड के बदलाव जानना है जरूरी - primary ka master

बताना होगा कि नहीं आता है उत्तर, तब पूरा होगा पेपर,  सीबीएसई बोर्ड के बदलाव जानना है जरूरी

● बोर्ड परीक्षा में ओएमआर शीट पर पहली बार चार की जगह पांच वृत्त और एक बाक्स
● नौ नवंबर को जारी होगा परीक्षार्थियों का अनुक्रमांक और सैंपल ओएमआर शीट



केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने पहले चरण की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा सुविधा और शुचितापूर्ण तरीके से कराने लिए ओएमआर शीट में अहम बदलाव किया है। उत्तर देने के लिए अब चार की जगह पांच वृत्त (सर्किल) और एक बाक्स होगा। बाक्स का प्रयोग दिए गए उत्तर को बदलने तथा पांचवें वृत्त का प्रयोग यह बताने के लिए होगा कि सवाल को छोड़ दिया गया है। यानी छात्र सवाल को हल नहीं करता है तो उसे ‘नाट अटेंप्टेड’ का वृत्त भरना होगा। ऐसा नहीं करने पर उस प्रश्न को अमान्य घोषित कर दिया जाएगा।



नौ नवंबर को अनुक्रमांक जारी करने जा रहा बोर्ड परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए इन बदलावों के साथ सैंपल ओएमआर शीट जारी करेगा। स्कूल इस सैंपल शीट पर छात्रों से अभ्यास कराएंगे ताकि परीक्षा में वह गलती न करें। बोर्ड की वेबसाइट पर जारी सकरुलर के अनुसार ओएमआर शीट पर 60 वैकल्पिक प्रश्नों का उत्तर देने के लिए स्थान होगा, लेकिन वृत्त उतने क्रमांक तक ही भरे जाएंगे, जितने प्रश्नपत्र में प्रश्न होंगे। यदि प्रश्नपत्र में 45 प्रश्न हैं तो ओएमआर शीट में 46वें से आगे तक के भरे वृत्त अमान्य माने जाएंगे।


दूसरे स्कूल का होगा पर्यवेक्षक: हर परीक्षा केंद्र पर दूसरे स्कूल का पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाएगा। अन्य ड्यूटी स्कूल के शिक्षक करेंगे। 90 मिनट की परीक्षा सुबह 11.30 बजे शुरू होगी। छात्रों को प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए 20 मिनट अतिरिक्त मिलेंगे। परीक्षा के दिन दूसरी कक्षा के विद्यार्थियों की छुट्टी होगी।


पहले से भरी रहेंगी जानकारियां: छात्रों को मिलने वाली ओएमआर शीट में छात्र व पिता का नाम, अनुक्रमांक, प्रश्नपत्र, तारीख, विद्यालय का नाम व कोड समेत सभी जानकारी लिखी होगी। परीक्षार्थी को केवल उत्तर देना होगा।


बाद में नहीं भर सकेंगे वृत्त

किसी भी परीक्षा की ओएमआर शीट में पहली बार ‘नाट अटेंप्टेड’ का विकल्प देने के पीछे शुचितापूर्ण परीक्षा कराना बताया जा रहा है। यह विकल्प भरने के बाद उत्तर के वृत्त नहीं भरे जा सकेंगे।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें