अटेवा पेंशन शंखनाद रैली : शिक्षकों-कर्मियों ने नई पेंशन योजना की वापसी को लेकर भरी हुंकार, राजधानी की सड़कों पर उमड़ी भीड़ - primary ka master - Sarkari Master | Primary Ka Master News | Basic Shiksha News, Updatemarts - PRIMARY KA MASTER

Breaking

Primary Ka Master Daily News Provides all of the news about primary ka master, shiskhamitra, uptet news, basic shiksha news and etc.

Main Menu

सोमवार, 22 नवंबर 2021

अटेवा पेंशन शंखनाद रैली : शिक्षकों-कर्मियों ने नई पेंशन योजना की वापसी को लेकर भरी हुंकार, राजधानी की सड़कों पर उमड़ी भीड़ - primary ka master

अटेवा पेंशन शंखनाद रैली : शिक्षकों-कर्मियों ने नई पेंशन योजना की वापसी को लेकर भरी हुंकार, राजधानी की सड़कों पर उमड़ी भीड़


● ’राजधानी की सड़कों पर शिक्षक/कर्मचारियों की उमड़ी भीड़

● ’नई पेंशन नीति को वापस लेने पर अड़ा अटेवा


लखनऊ : अटेवा पेंशन बचाओ मंच के प्रदेश अध्यक्ष विजय बंधु ने कहा है कि सरकार ने तीन किसान बिल को हितकर न मानते हुए जिस तरह वापस लिया है, उसी प्रकार नई पेंशन योजना कर्मचारियों के लिए पूरी तरह फ्लाप साबित हुई है। इसलिए सरकार तुरंत इसे वापस लेकर पुरानी पेंशन योजना बहाल करे। इससे जीवन भर सरकारी सेवा करने वाले शिक्षक कर्मचारियों का भविष्य अंधकारमय हो गया है।



इको गार्डेन पार्क में रविवार को पेंशन शंखनाद रैली में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा जहां एनपीएस से लोगो का भविष्य खराब हो रहा है, वहीं निजीकरण से युवाओं का वर्तमान खराब किया जा रहा है। पीडब्ल्यूडी एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष भारत सिंह ने कहा कि प्रदेश ही नहीं देशभर में नई पेंशन योजना से रिटायर्ड कर्मचारियों के परिवार पर आर्थिक संकट आ गया है। फ्रंट अगेंस्ट एनपीएस इन रेलवे के राजेंद्र पाल, चिकित्सा स्वास्थ्य महासंघ के प्रधान महासचिव अशोक कुमार व डिप्लोमा फार्मासिस्ट संघ के संदीप बडोला ने कहा कि पुरानी पेंशन कर्मचारियों के बुढ़ापे की लाठी और वृद्धावस्था का सम्मान है।



पुरानी पेंशन बहाली के लिए रविवार को शिक्षक/कर्मचारियों की भीड़ उमड़ पड़ी, चारबाग स्टेशन से लेकर बस अड्डों पर रात से ही शिक्षक व कर्मचारियों का आवागमन जारी रहा। संचालन प्रदेश महामंत्री डा. नीरजपति त्रिपाठी ने किया। रैली को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू, पीडब्ल्यूडी के महामंत्री रामराज दूबे, श्रम एवं सेवायोजन कर्मचारी परिषद के महामंत्री अमित कुमार यादव, उप्र पंचायती राज सफाई कर्मचारी संघ के रामेंद्र श्रीवास्तव, लखनऊ विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय के अध्यक्ष डा. मनोज पांडेय, उप्र लेखपाल संघ के उपाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह, लखनऊ विश्वविद्यालय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष राकेश यादव, बेसिक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के महेंद्र सिंह, नर्सेज संघ की सीमा शुक्ला आदि ने भी संबोधित किया।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें